centeral observer

centeral observer

To read

To read
click here

Tuesday, June 7, 2011



3 comments:

अरूण साथी said...

same same same .............

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

देखिये कब जाग पाता है भारत..

Mani Ram Sharma said...

न्यायपालिका भी कोई उज्जवल नहीं है , मात्र अपनी नाक बचाने के लिए ही कुछ कर रही है | पुलिस बर्बरता के लिए आखिर किसी को भी दण्डित नहीं किया है |भारतीत लोकतंत्र एक नाटक है जिसे शक्ति संपन्न लोग मिलकर खेल रहे हैं और जनता देख रही है .... इससे अधिक कहना अतिशयोक्तिपूर्ण पूर्ण होगा .. या भांडों का काम होगा ..